About Me

My photo

जर्नलिस्ट जुबेर : हिंदी रूपांतरण है ऑटोनोमस जर्नलिस्ट मैगज़ीन का जिसके एडिटर इन चीफ है जर्नलिस्ट जुबेर अहमद खान जो २०१० में लेखन के छेत्र में आये. जुबेर का मानना है अगर आपके खिलाफ अन्याय हो रहा है तो उसको तीन तरह से हल किया जा सकता है. एक चुप चाप सब कुछ सहते रहो दूसरा हथियार उठा के इन्साफ के लिए लड़ाई करो तीसरा कलम उठा के नाइंसाफी के खिलाफ लिखो. जुबेर पड़े लिखे होने के साथ साथ राजनीति में भी अपनी पैठ रखते है तो उन्होंने नइंसाफ़ी के खिलाफ कलम उठाया.

Friday, 30 June 2017

March to Jantar Mantar, जन्तर मन्तर कूच करो

Brathrane Islam Asslamo Alikum,


As all of you know the Hindu Terrorist’s attacks increased drastically on Muslims in India.  In two days four Muslims killed in Hindu Terrorists attacks in India.  Two in Jharkhand one in Gazipur, Nonhara Uttar Pradesh and one in Bihar.

Constitution of India guaranteed Right to live to every citizen, which is prime right of any citizen.  These Hindu terrorists snatching your right to live, to overcome this threat and counter them gather at Jantar Mantar New Delhi on 22nd July 2017.

Moment back I had discussed with the top executive of the event and I am attending the protest.  Further line of action will decide after the event.  It is request with all of you to attend the protest and make it grand success.

Zuber Ahmed Khan
Journalist


प्यारे इस्लामिक भाइयो अस्सलामो अलयकुम,

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि भारत में मुसलमानों पर हिंदू आतंकवादी के हमलो  में भारी वृद्धि हुई है। भारत में हिंदू आतंकवादी हमलो में दो दिन में चार मुस्लिम मारे गए। दो झारखंड में एक गाजीपुर, नान्हारा उत्तर प्रदेश और एक  बिहार में.


भारत के संविधान ने हर नागरिक को जीने का अधिकार दिया है, जो कि किसी भी नागरिक का मुख्य अधिकार है जो के इन हिन्दू अतक्वादीओ दूवरा आपसे छीना जा रहा है. इन हिंदू आतंकवादियों को काबू करने ओर इस खतरे को दूर करने के लिये 22 जुलाई 2017 को जंतर मंतर नई दिल्ली में इकट्ठा होइये।

थोड़ी देर पेहले  मेने इस विषय के शीर्ष कार्यकारी के साथ चर्चा 
की थी और मैं विरोध में भाग ले रहा हूं। इवेंट के बाद अगली 
रणनीति पे फैसला होगा। यह आप सभी के साथ अनुरोध है 
कि आप विरोध में भाग लें और इसे शानदार सफलता दें।
 
ज़ुबेर अहमद खान
पत्रकार

Post a Comment